Print Technology : छपाई में छुपी सुनहरे भविष्य की कमाई

    Career in Print Technology in Hindi

    सुबह उठकर समाचार पत्र पढ़ना, सफ़र के दौरान पत्रिका/ पुस्तक, उपन्यास  पढ़ना किसे अच्छा नही लगता? लेकिन क्या कभी आप ने इसमें उपयोग होने वाली टेक्नोलॉजी के बारे में सोचा है कि आखिर यह किस प्रकार की तकनीक से संभव है । ये सब संभव होता है प्रिंट टेक्नोलॉजी में कुशल तकनीकी विशेषज्ञों के द्वारा।यदि प्रिंट टेक्नोलॉजी के विकासक्रम को देखे तो इसका प्रयोग आज से नही बल्कि प्राचीन कालों से होता आ रहा है | चलिए आज हम आपको प्रिंट टेक्नोलॉजी के बारे में (Career in Print Technology in Hindi) विस्तार से बताते है कि क्या है,इससे सम्बंधित कोर्स, संस्थान, योग्यता इत्यादि के बारे में|

    प्रिंट टेक्नोलॉजी का इतिहास (History of Print Technology)

    प्राचीन समय में जब कागज़ का आविष्कार नही हुआ था उस समय लोग मूल रूप से पत्थरों पर लिखा करते थे, उसके  बाद ताम्रपत्र और भोजपत्र में लिखाई की कला सामने आई, लेकिन इन सब को ज्यादा समय तक सुरक्षित रख पाना संभव नही था। पहली शताब्दी में चीन में कागज़ का आविष्कार हुआ, जो जल्दी ही पूरे विश्व में प्रयुक्त होने लगा। सही मायने में प्रिंट टेक्नोलॉजी का इतिहास (History of print technology) शुरू हुआ यूरोप में 1455 में पहले प्रिंटिंग प्रेस के साथ, और सर्वप्रथम इसमें बाइबल की प्रतियाँ छापी गयी। धीरे धीरे प्रिंटिंग की तकनीक पूरे ही विश्व में प्रचलित हो गयी। भारत में प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी लाने का श्रेय पुर्तगालियों को जाता है। 19वीं शताब्दी के बाद प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी का काफी तीव्र गति से विकास हुआ। आज के समय में रंगीन, चित्र सहित प्रिंटिंगनिकलना काफी आसान हो गयी है |

    Get Latest Info. About this Story/Article, via SMS & Email.

    प्रिंट टेक्नोलॉजी क्या है (what is print technology)

    प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी में शब्दों को छापना ही नही सिखाया जाता बल्कि कई चीजों का मिश्रण होता है। इस प्रोसेस में शुरुआती प्लानिंग, प्रिंटिंग की तैयारी, छपाई, छपाई की गुणवत्ता, सफाई महत्वपूर्ण अंग है। प्रिंट मीडिया तकनीशियन को स्याही, पेपर और उपकरण जैसे मुद्रण कारकों को संभालने, समस्या निवारण बनाए रखने की गहन ज्ञान की आवश्यकता होती है। इसमें प्रिंटिंग की छपाई, छपाई की गुणवत्ता आदि के बारे में विस्तार से बताया जाता है तभी हम सही मायने में जान पाते है; कि प्रिंट टेक्नोलॉजी क्या है (what is print technology)

    प्रिंट टेक्नोलॉजी कोर्स  (print technology course)

    अगर आप प्रिंट टेक्नोलॉजी कोर्स (print technology course)  से जुड़े तथ्यों से अवगत हो चुके हो | प्रिंट टेक्नोलॉजी में करियर बनाने हेतु छात्र के पास  12वीं में विज्ञान (PCM) विषय का होना आवश्यक है और अगर आप अपना करियर प्रिंट टेक्नोलॉजी में बनाना चाहते है तो आपके पास प्रवेश पाने के निम्नलिखित रास्ते है । आप चाहे तो इन कोर्स को कर प्रिंट टेक्नोलॉजी में अपना करियर बना सकते है ।

    • बीटेक / बी ई इन प्रिंट टेक्नोलॉजी
    • एम टेक / एम ई इन प्रिंट टेक्नोलॉजी
    • पीएचडी इन प्रिंट टेक्नोलॉजी
    • डिप्लोमा इन प्रिंट टेक्नोलॉजी
    • सर्टिफिकेट कोर्स

    Print Technology के कार्य क्षेत्र 

    यदि आप भी में प्रिंट टेक्नोलॉजी अपना करियर बनाना चाहते है तो ऊपर दिए गये कोर्स में से किसी एक को चुन सकते है आइये अब हम आपको प्रिंट टेक्नोलॉजी के कार्य क्षेत्र के बारे में बताते है | कोर्स करने के बाद आप चाहे तो इन करियर प्रोफाइल को चुन सकते है |

    • प्रिंटिंग पर्यवेक्षक
    • प्रोफ़ेसर
    • प्रिंटिंग इंजीनियर
    • स्क्रीन रूम प्रिंटिंग इंजीनियर
    • प्रिंटिंग अधिकारी
    • विपणन प्रबंधक

    Print Technology के लिए आवश्यक योग्यता

    Eligibility (योग्यता)
    • उम्मीदवारों को स्नातक में दाख़िला पाने के लिये किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से 10+2 में विज्ञान विषय (PCM) के साथ न्यूनतम 50% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है |
    • उम्मीदवारों को परास्नातक में दाख़िला पाने के लिये किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से स्नातक में डिग्री प्राप्त करना अनिवार्य है |
    Age (उम्र)
    • 16 वर्ष या उससे अधिक
    Qualification (शैक्षिक योग्यता)
    • स्नातक
    • इंटरमीडिएट
    • हाईस्कूल
    Admission Process (प्रवेश प्रक्रिया)
    • जेई मेंस
    • ग्रेजुएट ऐप्टिट्यूड टेस्ट इं इंजिनियरिंग (GATE)
    • राज्य स्तरीय इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम

     

    पाठ्यक्रम (syllabus) 

    • प्रिंटिंग मशीन के सिद्धांत
    • टाइपोग्राफी और टाइप सेटिंग
    • प्रिंटिंग मशीन में विद्युत प्रणाली
    • गुणवत्ता प्रबंधन
    • विद्युत और इलेक्ट्रॉनिक्स

    आवश्यक कौशल(skills required)

    • आईटी क्षेत्र में दक्ष
    • विज्ञान और गणित में क्षमता
    • अच्छी कम्युनिकेशन स्किल्स
    • टीम-वर्क स्किलस
    • ध्वनि वित्तीय प्रबंधन
    • रचनात्मक दृष्टिकोण

    भविष्य की संभावनाएँ (future possibility)

    प्रिंट टेक्नोलॉजी में डिग्री प्राप्त कर आप आसानी से नौकरी पा सकते है | आप बुक, मैगज़ीन, न्यूजपेपर पब्लिशिंग जैसी कंपनियों में आसानी से अवसर पा सकते हैं । आप प्रिंटिंग हाउस, पब्लिकेशन हाउस खोल कर अच्छा मुनाफ़ा कमा सकते हैं| इस क्षेत्र में सुनहरे भविष्य की संभावनाएं (future possibility) अपार है| प्रिंट टेक्नोलॉजी का कोर्स करके टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस, स्टेट टेक्स्ट-बुक कॉरपोरेशन जैसी कंपनियों में अवसर तलाश कर अपने भविष्य को नए मुकाम तक पहुंचा सकते हैं।

    सैलरी (salary)

    सैलरी(salary) और करियर के लिहाज से प्रिंट टेक्नोलॉजी में करियर बना कर आप अपने करियर को नयी बुलंदियों तक पंहुचा सकते है| पहली वजह इसमें शुरुआती सैलरी का काफी अच्छा होना तथा दूसरी वजह आप अपना बिज़नेस खोल कर अच्छा मुनाफ़ा कमा सकते है । आप अन्तराष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी पहचान बना सकते है यह कहना गलत न होगा की इस फ़ील्ड में करियर के लिहाज़ से अच्छे विकल्प है | प्रिंट टेक्नोलॉजी से जुड़े स्नातक छात्रों को कोई भी प्रिंटिंग कम्पनी  प्रथम वरीयता देता है | आप शुरुआत में दो लाख से तीन लाख तक सालाना सैलरी पा सकते है | कुछ दिनों बाद अनुभव के अनुसार प्रिंट टेक्नोलॉजी में आपकी सैलरी बढ़ती जाती है | करियर और सैलरी के अनुसार प्रिंट टेक्नोलॉजी में आपका भविष्य सुनहरा हो सकता है |

    प्रमुख संस्थान (prominant institutes)

    • अन्ना विश्वविद्यालय – प्रिंटिंग विभाग, चेन्नई
    • बीएमसी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग
    • सावित्री बाई फुले पुणे युनिवर्सिटी पुणे
    • केरल इंस्टिट्यूट ऑफ प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी
    • मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मणिपाल
    • काली-कट विश्वविद्यालय मलपुरम
    • बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, बैंगलोर
    • पुसा प्लाटेक्निक कॉलेज नई दिल्ली

    यदि उपरोक्त जानकारियाँ, प्रिंट टेक्नोलॉजी से जुड़े आपके सवालों का जवाब देने में  हम सामर्थ्य रहे हो तो अपने बहुमूल्य सुझाव हमे देना न भूले |

    Read Also:

    यदि आप भी करियर संबंधित किसी भी तरह की परेशानियों से जूझ रहे है तो हमसे संपर्क करना ना भूले | याद रहे केवल उचित मार्गदर्शन से ही हर असंभव को संभव किया जा सकता है | आप अपनी उलझने हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर भी हमसे सवाल पूछ सकते है |

    Summary
    Print Technology : छपाई में छुपी सुनहरे भविष्य की कमाई
    Article Name
    Print Technology : छपाई में छुपी सुनहरे भविष्य की कमाई
    Description
    चलिए आज हम आपको प्रिंट टेक्नोलॉजी के बारे में (Career in Print Technology in Hindi) विस्तार से बताते है कि क्या है,इससे सम्बंधित कोर्स, संस्थान, योग्यता इत्यादि के बारे में|
    Author
    Publisher Name
    Edufever
    Publisher Logo
    Disclaimer: If you have found any inappropriate or wrong information/data on the site, inform us by emailing us at mail[@]edufever.com for rectification/deletion/updating of the same.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here