जाने JEE Mains परीक्षा की काउंसलिंग से संबंधित महत्वपूर्ण बातें

    JEE Mains काउंसलिंग
    JEE Mains काउंसलिंग

    इस आलेख में आज हम JEE Mains काउंसलिंग के बारे में बात करेंगे| इस आलेख के माध्यम से आप जान पाएँगे कि कम मार्क्स वालों को कैसे मिल जाता है अच्छा कॉलेज| सटीक जानकारी और जेइइ मैन्स (JEE Mains) काउंसलिंग के प्रति आपकी सजगता आपको अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश दिला सकती है|

    ग्राफ के जरिये समझे JEE Mains Counselling के procedure को:

    Jee mains counselling 2017
                                                                   Jee mains counselling 2017

    क्या आप जेइइ मैन्स से जुड़े इन संस्थानों के बारे में जानते हैं ?

    • जॉइंट एडमिशन बोर्ड (Joint Admission Board) -JAB: इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (IIT’s) तथा ISM धनबाद में प्रवेश JAB के जरिये होता है.
    • सेंट्रल सीट एलोकेशन बोर्ड (Central Seat Allocation Board) -CSAB: नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (NIT’s), इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (IIIT’s) तथा अन्य सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में CSAB के जरिये होता है.
    • स्टेट काउंसलिंग बोर्ड (State Counselling Board)- SCB: SCB लगभग भारत के हर एक राज्य में है, SCB Counselling के जरिये उस राज्य के सरकारी और गैर सरकारी संस्थओं में 5 से 50 प्रतिशत सीटों पर दाखिला प्राप्त कर सकते हैं.
    • और इन सब को रेगुलेट करने के लिए The Joint Seat Allocation Authority (JoSAA) बना है जो IIIT’s, NIT’s, IIIT’s, सहित 100 से ज्यादा सरकारी और गैर सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों के दाखिला प्रक्रिया को देखता है|

    एक अच्छे सरकारी तथा गैर सरकारी (Government Engineering College and Privately Funded Engineering College) में दाखिला लेना सिर्फ Jee Mains परीक्षा तथा 12वी में अच्छे नंबर लाने तक ही पर्याप्त  नहीं है| इसके लिए आपको उचित मार्गदर्शन की भी आवश्यकता है|

    हमारे एडमिशन काउंसलर के प्रभावी मार्गदर्शन और टिप्स से आप एक अच्छे कॉलेज में प्रवेश पा सकते हैं, चाहे आपके Jee Mains में कम ही अंक क्यों ना आये हों|

    Direct Admission in Top College
    **Sponsored

    अभिभावकों और छात्रों से एक अपील:

    • एडमिशन के नाम पर Donation न दें| Jee Mains का स्कोर कार्ड पर अच्छे कॉलेजों में आपका दाखिला बिना किसी अतिरिक्त खर्च के हो जाएगा|
    • किसी भी काउंसलर और कंसल्टेंसी को सीट बुकिंग के नाम पर पैसे ना दें, क्यूंकि आपका Jee Mains रैंक ही आपकी सबसे बड़ी जमा पूंजी है|

    नोट: यदि किसी बच्चे का JEE Mains में रेंक किसी कारण वश लाखों में आता है तो लोग सोचते हैं कि अब बच्चे को एक साल और तैयारी करनी पड़ेगी या एडमिशन के लिए मोटी रकम देनी पड़ेगी| लेकिन ऐसा नहीं है, आपको आवश्यकता है थोड़ी  नॉलेज की जिसके जरिये आप अच्छे कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं|

    सावधानियाँ:

    • ऐसे एडमिशन काउंसलर जो आपको ढेर सारे नए स्थापित कॉलेजों के Booklet और Brochure दिखाता हो.
    • कई कॉलेजों से अपना Tie-Up बताता हो.

    कुछ सामान्य सवाल और उनके जवाब:

    प्रश्न: इतने Low Rank (Upto 8 Lakh in JEE Main) होने के बाद भी मुझे कॉलेज बिना किसी प्रकार के Donation की मदद से मिल रहा है, तो वह कॉलेज कैसा होगा ?

    उत्तर: जैसा कि हमने आपको पहले बताया था| जिस Qouta के अंतर्गत आपका Admission हो रहा है, उसके बारे में आपको जानकारी नहीं है, जिस कारण से आप वहाँ Admission के लिए apply नहीं करते हैं| जिसका परिणाम यह होता है कि उन State के Top engineering colleges के Seats Vacant रह जाती है, अब जो दुसरे राज्यों के स्टूडेंट्स उन ख़ाली Seats के लिए apply करते हैं तो उन्हें उस राज्य के टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश बिना किसी Donation के वहाँ Counselling में participate करके हो जाता है चाहे उनका आल इंडिया रैंक 50 हज़ार हो या 5 लाख हो|

    प्रश्न: 5-6 लाख रैंक तक जो कॉलेज हमें मिलेगा, उसकी प्लेसमेंट कैसी होगीं ?

    उत्तर: प्लेसमेंट कई बातों पर निर्भर करता है जैसे पढाई की गुणवत्ता, शिक्षक-छात्र अनुपात, संस्थानों का विभिन्न इंडस्ट्रीज के साथ कोलैबोरेशन, इंफ्रास्ट्रक्चर इत्यादि| इन सब के अलावा महत्वपूर्ण बात है प्लेसमेंट के वक़्त उस ब्रांच का मार्केट में कैसा डिमांड है| कुछ ही दिन पहले आपने यह सुना होगा कि IIT के 70% बच्चे बेरोजगार हैं या उन्हें उनकें स्किल के मुताबिक सही भत्ता(सैलरी) नहीं मिल पा रहा है| इस रिपोर्ट से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि भारत के लगभग सभी छोटे-बड़े इंजीनियरिंग शिक्षण संस्थानों के प्लेसमेंट औसत (3 Lac-4 lac/annum) ही रहती है|

    READ ALSO: How To Choose Best Engineering College

    READ ALSO: स्कालरशिप क्या हैं | Scholarship Benefits in Hindi | Scholarships के फायदे…!!

    READ ALSO: Things you must know about JoSAA Counselling 2018

    READ ALSO: JEE Mains Counselling 2018

    Summary
    Review Date
    Reviewed Item
    जाने JEE Mains परीक्षा के काउंसलिंग से संबंधित महत्वपूर्ण बातें
    Author Rating
    51star1star1star1star1star
    Disclaimer: If you have found any inappropriate or wrong information/data on the site, inform us by emailing us at mail[@]edufever.com for rectification/deletion/updating of the same.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here