अब JNU में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई: जुलाई से शुरू होगी दाखिले की प्रकिया

    JNU introduces engineering program from 2018-19 session
    JNU introduces engineering program from 2018-19 session

    इंजीनियरिंग करने वाले छात्रों के लिए खुसखबरी| सूत्रों के हवाले से यह खबर आई है कि जवाहर लाल नेहरू विश्वविधालय (JNU) में इस जुलाई सत्र से इंजीनियरिंग के दो पाठ्यक्रमों में दाखिले होंगे।  जेएनयू के रेक्टर 2 और  उपकुलपति प्रोफेसर  सतीश ने  बताया कि जुलाई में शैक्षिक  सत्र  2018-19 के  लिए  स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग का नया केंद्र शुरू  हो जाएगा।

    यहाँ यह बताते चले कि काफी लम्बे समय से विश्वविद्यालय में बीटेक की पढ़ाई हेतु मांगे की जा रही थी| अभी कुछ दिनों पहले UGC की एक टीम ने JNU के स्कूल ओफ इंजीनियरिंग का दौरा भी किया था जिसके तहत सब कुछ अनुकूल मिलने के बाद ही इस सत्र के लिए इंजीनियरिंग की पढ़ाई का प्रावधान रखा गया|

    Contents

    Get Latest Info. About this Story/Article, via SMS & Email.

    किन विषयों की होगी पढ़ाई

    बीटेक  इंजीनियरिंग  के पहले बैच में  छात्रों  को  कंप्यूटर  साइंस  इंजीनियरिंग  और इलेक्ट्रॉनिक्स  एंड कम्युनिकेशन  इंजीनियरिंग  में ड्यूल डिग्री  प्रोग्राम  की पढ़ाई  का मौका  मिलेगा।  यह पांच वर्षीय इंटीग्रेडिट  पाठ्यक्रम होगा , जिसमें  बीटेक- एमटेक या बीटेक -एमएस कोर्स का विकल्प  रहेगा।  बीटेक प्रोग्राम में  दाखिला लेने  के बाद  छात्र  बीच  में  पढ़ाई नहीं छोड़ सकेगा। दोनों पाठ्यक्रमों में 50-50 सीटें तय की गई हैं।

    S.No कोर्स इन्टेक
    1. कंप्यूटर  साइंस  इंजीनियरिंग (ड्यूल डिग्री) 50
    2. इलेक्ट्रॉनिक्स  एंड कम्युनिकेशन  इंजीनियरिंग (ड्यूल डिग्री) 50

    कैसे मिलेगी दाखिला:

    जेएनयू की अकादमिक कॉउंसिल की 18  मई को हुई  बैठक में ड्यूल डिग्री इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में दाखिला पॉलिसी पास हुई है। जिसके तहत पढ़ाई जाने वाली विषय-वस्तु एवं पाठ्यक्रम को लेकर चर्चाएँ हुईं| हालांकि विश्वविद्यालय इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में दाखिला हेतु खुद का एंट्रेंस एग्जाम भी करवा सकने में सक्षम है परन्तु इस सत्र के लिए विश्वविद्यालय ने जेईई मेन की रैंक के आधार पर दाखिला लेने का प्रावधान रखा है|

    क्या रहेगी फीस:

    अभी तक मूल रूप से फीस के बारे में कोई ठोस जवाब नहीं मिल पाया है| मगर हाँ, JNU के प्रोफेसर सतीश के मुताबिक दोनों इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए एनआईटी के ड्यूल डिग्री पाठ्यक्रमों  के करीब ही फीस होगी। आइये जानते है क्या है NIT में पंचवर्षीय B.Tech ड्यूल डिग्री प्रोग्राम को पढ़ने का खर्च|

    S.No Description Fees
    1. Tuition Fees (Per semester) Rs: 62,500
    2. Institute Fee (Payble at the time of Admission) Rs: 4100

    क्या रहेगी पाठ्यक्रम:

    इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने वाले छात्रों को  भाषा, सोशल साइंस व मानविकी के विषय भी पढ़ने होंगे। इन  विषयों की पढ़ाई एमटेक या एमएस पाठ्यक्रम के दौरान होगी। इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिला लेने के बाद पाठ्यक्रम वही रहेगी जो अमूमन NIT/IIT के पंचवर्षीय प्रोग्राम में रहती है|

    शिक्षा से जुड़ीं ऐसे ही ढेर सारे न्यूज़ अपडेट को सीधा अपने मोबाइल में पाने के लिए हमे सब्सक्राइब करना ना भूले|

    भविष्य की शुभकामनाएं|

    Summary
    Review Date
    Reviewed Item
    अब JNU में होगी इंजीनियरिंग की पढाई: जुलाई से शुरू होगी दाखिले की प्रकिया
    Author Rating
    51star1star1star1star1star
    Disclaimer: All the information (including colleges, universities, their respective courses etc.) on Edufever.com has been compiled from the Institution Authority, Respective Websites, Newspaper and other reliable sources available in the public domain. However, if you have found any inappropriate or wrong information/data on the site, inform us by emailing us at mail[@]edufever.com for rectification/deletion/updating of the same.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here